No icon

लॉकडाउन 3.0 को लेकर धारणाएं‘- निर्णय प्रभावशीलता बढ़ी, कार्यान्वयन प्रभावशीलता’ कम हुईः टीआरए व्हाइटपेपर

मुंबई का चिंता सूचकांक (वरी इंडेक्स) सबसे अधिक, दिल्ली सबसे कम

Kolkata’s Lockdown Implementation Effectiveness reduced by 20%

मुंबई, 29 मई, 2020- टीआर रिसर्च, एक कंज्यूमर इनसाइट्स और ब्रांड एनालिटिक्स कंपनी, ने आज अपना दूसरा उपभोक्ता इनसाइट्स जारी किया है। इसे टीआरए कोरोनावायरस कंज्यूमर इनसाइट्स-2, नाम से जारी किया गया है जो कि 16 शहरों के 902 नागरिकों पर की गई रिसर्च पर आधारित है। सर्वेक्षण अप्रैल 2020 में जारी पूर्व संस्करण का फॉलोअप है और लॉकडाउन, स्वास्थ्य और आर्थिक चिंता सूचकांक पर नागरिकों की धारणाओं को देखता है, स्वास्थ्य और आर्थिक संकट से उबरने की भारत की क्षमता, अन्य कारकों के बीच मौजूदा विश्वास को दर्शाता है।

व्हाइटपॉपर के निष्कर्षों के बारे में बोलते हुए, एन.चंद्रमौली, सीईओ, टीआरए रिसर्च ने कहा किसमय के साथ थकावट बढ़ती है, और इस लॉकडाउन जैसे चरम मामलों में अच्छे निर्णय बुरे लग सकते हैं। हालांकि, इसके विपरीत, कुछ शहरों को छोड़कर, लॉकडाउन 1.0 से लॉकडाउन 3.0 तक निर्णय प्रभावशीलता के बारे में आम सहमति केवल बढ़ी है। जिन कुछ शहरों में लॉकडाउन 3.0 में निर्णय प्रभावशीलता की खराब धारणा थी, वे हैदराबाद और कोयम्बटूर हैं।

चंद्रमौली ने कहा किलॉकडाउन 1.0 और लॉकडाउन 3.0 के बीच लॉकडाउन कार्यान्वयन प्रभावशीलता अंतर पर विचार करते समय, सोलह शहरों में से नौ में प्रभावशीलता सूचकांक पर एक महत्वपूर्ण गिरावट दर्ज की गई थी। वे चुनिंदा शहर जो कार्यान्वयन प्रभावशीलता पर कोई उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज करने में सफल रहे हैं, उनमें चेन्नई (28 प्रतिशत), कोचीन (22 प्रतिशत तक) और नागपुर (17 प्रतिशत तक) शामिल हैं।

यह एक प्रतिकूल स्थिति है, जो कि लॉकडाउन 3 में पुष्टिकृत मामलों और स्वास्थ्य और आर्थिक चिंता सूचकांकों के बीच कोई संबंध नहीं है। वास्तव में, हालांकि पश्चिमी भारत में प्रति मिलियन के आधार पर कन्फर्म मामलों की संख्या सबसे अधिक है, फिर भी इस क्षेत्र में चिंता सूचक देश के बाकी हिस्सों की तुलना में बहुत अधिक भिन्न नहीं हैं। उन्होंने इस संबंध में कहा कि विशेष रूप से, अमहदाबाद और इंदौर शहरों में कोविड के पॉजिटिव मामलों की दर अपेक्षाकृत कम चिंता प्रदर्शित करते हैं।

दोनों शहरों में वरी इंडेक्स का बैंडहाईसे लेकरएक्स्ट्रीमली हाईदोनों रेंज में है, जिसमें स्वास्थ्य चिंता 62 प्रतिशत से 68 प्रतिशत और आर्थिक चिंता 61 प्रतिशत और 73 प्रतिशत के बीच है। मुंबई दोनों मामलों में उच्चतम चिंता (67 प्रतिशत पर स्वास्थ्य चिंता सूचकांक और 73 प्रतिशत पर अर्थव्यवस्था चिंता सूचकांक) 70 प्रतिशत की औसत चिंता के साथ प्रदर्शित करता है। दिल्ली 64 प्रतिशत पर सबसे कम औसत चिंता सूचकांक (67 प्रतिशत पर स्वास्थ्य चिंता सूचकांक और 61 प्रतिशत पर अर्थव्यवस्था चिंता सूचकांक) प्रदर्शित करता है।

cid:image003.jpg@01D635B5.E2E2B7B0

टीआरए रिसर्चः परिचय

टीआरए रिसर्च, कॉमनिसिएंट ग्रुप कंपनी है जो कि एक कंज्यूमर इनसाइट्स और ब्रांड इंटेलीजेंसी कंपनी है जो कि अंशधारकों की खरीदारी के रूझानों को समझते हुए उनका अध्ययन करती है। ये प्रक्रिया दो वैश्विक तौर पर प्रतिष्ठित ब्रांड ट्रस्ट और ब्रांड अट्रेक्टिवनेस के प्रॉपेटरी मैट्रिक्स के माध्यम से संबंधित ग्राहकों के प्रति अवधारणा को समझती और अध्ययन करती है। टीआरए रिसर्च ग्राहकों और अन्य अंशधारकों के साथ एक प्राइमरी रिसर्च करती है ताकि उन्हें ग्राहकों के व्यवहार की आंतरिक जानकारी के आधार पर अपने कारोबारी फैसले करते हुए ब्रांड्स को स्थापित करने में मदद मिल सके।

टीआरए रिसर्च, कोविड-19 संकट के दौरान और बाद में उन्हें उपभोक्ता और ग्राहक की अपेक्षाओं के अनुरूप बनाने में मदद करने के लिए ब्रांड्स को कंसल्टिंग प्रदान कर रहा है। टीआरए रिसर्च, टीआरए ब्रांड ट्रस्ट रिपोर्ट और टीआरए मोस्ट डिजायर्ड ब्रांड्स की भी प्रकाशक है।

 

Comment